नई दिल्ली. वर्ल्ड कप 2023 में टीम इंडिया की जीत का सिलसिला जारी है. भारत ने रविवार को कोलकाता में खेले गए एक मैच में साउथ अफ्रीका को 243 रन के बड़े अंतर से हराया. भारत के 327 रन के टारगेट का पीछा करते हुए साउथ अफ्रीका की टीम महज 83 रन पर ऑल आउट हो गई थी. भारत की जीत में विराट कोहली और गेंदबाजों का अहम योगदान रहा. कोहली ने अपने जन्मदिन पर 49वां शतक ठोका औऱ सचिन तेंदुलकर के रिकॉर्ड की बराबरी की. गेंदबाजी में रवींद्र जडेजा छाए. उन्होंने 5 विकेट झटके. उनके अलावा मोहम्मद शमी और कुलदीप यादव को भी 2-2 विकेट मिले.

मैच के बाद कप्तान रोहित शर्मा ने पोस्ट मैच प्रजेंटेशन में दो खिलाड़ियों मोहम्मद शमी और श्रेयस अय्यर की जमकर तारीफ की. बता दें कि शमी इस विश्व कप में पहले 4 मैच नहीं खेले थे. इसके बावजूद विश्व कप 2023 में उन्होंने भारत के लिए सबसे अधिक 16 विकेट लिए हैं. शमी ने महज 26 ओवर में इतने विकेट हासिल किए. उनका स्ट्राइक रेट 9.7, औसत 7 और इकोनॉमी रेट 4.30 रहा. श्रेयस अय्यर ने विश्व कप की अपनी पहली 6 पारियों में सिर्फ एक अर्धशतक बनाने के बाद, दक्षिण अफ्रीका और श्रीलंका के खिलाफ लगातार 2 फिफ्टी ठोकी.

श्रेयस रन नहीं बनाता फिर भी उसे खिलाता: रोहित

रोहित ने श्रेयस अय्यर को लगातार मौके देने के सवाल पर कहा, “ईमानदारी से कहूं कि अगर ये दोनों खिलाड़ी अच्छा प्रदर्शन नहीं भी करते और भरोसे पर खरा नहीं उतरते तो भी मेरा इन पर विश्वास कम नहीं होता. खिलाड़ियों को आजादी देना जरूरी है. उन्हें यह समझाना महत्वपूर्ण है कि उनसे क्या अपेक्षा की जाती है और मैं यह भी समझता हूं कि हर मैच में खिलाड़ी चमकने नहीं वाला है. आपको उन खिलाड़ियों पर भरोसा करना होगा जिन्होंने अतीत में टीम के लिए अच्छा किया है.”

‘ शमी ने कमबैक के बाद कमाल की बॉलिंग की’

भारतीय कप्तान ने मोहम्मद शमी के लिए भी ऐसी ही बात कही. उन्होंने कहा कि शुरुआती कुछ मुकाबलों में शमी प्लेइंग-11 का हिस्सा नहीं थे लेकिन वापसी के बाद से पिछले 4 मैच में उन्होंने जिस तरह की गेंदबाजी की, वो उनकी मानसिकता और एक खिलाड़ी के तौर पर उनकी काबिलियत को दिखाता है. अय्यर के साथ भी ऐसा ही है, वो अपने स्तर के मुताबिक शुरुआत में रन नहीं बना पा रहे थे लेकिन पिछले दो मैच में उन्होंने फिफ्टी ठोक अपनी क्षमता दिखाई.

‘सोचकर आक्रामक बैटिंग नहीं करते’

रोहित शर्मा ने शुभमन गिल और अपनी साझेदारी और बल्लेबाजी पर भी खुलकर बात की. रोहित पिछले मुकाबलों की तरह इस मैच में भी भार को तूफानी शुरुआत दिलाई. दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ मैच में भारत 5वें ओवर में ही 50 रन बना लिए थे. रोहित 24 गेंद में 40 रन बनाकर आउट हो गए लेकिन जिस शुरुआत की भारत को जरूरत थी, वो दिला दी. इसी वजह से टीम इंडिया कोलकाता के मुश्किल विकेट पर भी 50 ओवर में 326 रन बना पाई. मैच के बाद जब रोहित ने ये पूछा गया कि क्या उनकी ये आक्रामक अप्रोच पहले से तय थी.